क्या आपकी हथेली में है तिल,जानें तिल के मानव जीवन पर प्रभाव

0
113

हस्त रेखा विज्ञान का महत्व जीवन में बहुत है.हस्त रेखा विज्ञान के माध्यम से मनुष्य भविष्य के बारे में सचेत होकर सही गलत का निर्णय ले सकता है.हथेली में अनेक प्रकार की रेखाएं पाई जाती हैं जिनमें मुख्य रेखाएं जीवन रेखा,मस्तिष्क रेखा व ह्रदय रेखा होतीं हैं व इसके अलावा अनेक प्रकार के चिन्ह जैसे कि क्रॉस,आयत , त्रिभुज,वर्ग व तिल आदि पाए जाते हैं.हथेली की प्रत्येक रेखा व चिन्ह का अपना महत्व होता है.हथेली का प्रत्येक चिन्ह भविष्य के बारे में कोई न कोई संकेत अवश्य देता है.हथेली में तिल का भी अपना महत्व होता है व इसकी हथेली में इसकी स्थिति के अनुसार मानव जीवन पर प्रभाव पड़ता है.यह हथेली के विभिन्न भागों जैसे कि जीवन रेखा,मस्तिष्क रेखा,ह्रदय रेखा,सूर्य रेखा,भाग्य रेखा,शनि पर्वत,सूय पर्वत,गुरू पर्वत,बुध पर्वत,शुक्र पर्वत,चन्द्र पर्वत,राहू पर्वत ,केतु पर्वत व अंगुलिओं या अंगूठे पर पाया जा सकता है जैसा कि चित्र में दिखाया गया है.

उपरोक्त चित्र में बायीं ओर का चित्र सांकेतिक चित्र है जिससे आप पर्वतों,अँगुलिओं व मुख्य रेखाओं जैसे जीवन रेखा,मस्तिष्क रेखा व ह्रदय रेखा के बारे में जान सकते हैं व दायीं ओर के चित्र में वास्तविक हाथ में पर्वतों,अंगुलिओं व रेखाओं पर तिल दिखाए गए हैं जिससे पाठकों को समझने में आसानी हो.

हथेली में तिल की संभावित स्तिथि
हथेली में तिल की संभावित स्तिथि

आइये जानते हैं हथेली के विभिन्न भागों पर उपस्थिति के अनुसार तिल किस तरह से मानव जीवन पर प्रभाव डालता है.

1.गुरु पर्वत पर तिल: विवाह में देरी होती है परन्तु विवाह होने के बाद जीवन में पूर्ण सफलता मिलती है.

2.शनि पर्वत पर तिल:प्रेम में बदनामी होती है , दुखमय गृहस्थ जीवन रहता है व पति पत्नी में से एक के आग में जलकर समाप्त होने की संभावना रहती है.

3.सूर्य पर्वत पर तिल:समाज में निंदनीय कार्य करने को मजबूर होना पड़ता है व प्रतिष्ठा को धक्का लगता है.

4.बुध पर्वत पर तिल:ऐसे व्यक्ति कुटिल व धोखेबाज होते हैं व इनको व्यापार में हानि होती है.

5.राहू पर्वत पर तिल:योवनावस्था में आर्थिक हानि होती है.

6.केतु पर्वत पर तिल:ऐसे लोगों का बचपन दुखमय रहता है.

7.चन्द्र पर्वत पर तिल:ऐसे लोगों के विवाह में विलम्ब होता है व जलाघात की संभावना रहती है.

8.कनिष्ठिका अंगुली पर तिल:ऐसे लोगों को व्यापार में हानि होती है.

9.अनामिका अंगुली पर तिल:ऐसे लोगों को भी व्यापार में हानि होती है.

10.तर्जनी अंगुली पर तिल:ऐसा तिल होने पर नौकरी से पद त्याग करना पड़ता है व बदनामी का सामना करना पड़ता है.

11.मध्यमा अंगुली पर तिल:ऐसे लोगों के भाग्य में बाधाएं आती हैं.

12.शुक्र पर्वत पर तिल:ऐसा व्यक्ति कामी होता है व गुतांगों के रोग की संभावना रहती है.

13.अंगूठे पर तिल:ऐसे लोगों को परिवारजनों से जीवन भर सहयोग मिलता है.

14.जीवन रेखा पर तिल:ऐसे लोग लम्बे समय तक टी०बी० के मरीज रहते हैं.

15.मस्तिष्क रेखा पर तिल:ऐसे जातकों को सिर पर गंभीर चोट लगती है व मस्तिष्क सम्बन्धी रोग होते हैं.

16.ह्रदय रेखा पर तिल:ऐसे लोग कमजोर दिल वाले होते हैं व सदमा बर्दाश्त नहीं कर पाते हैं.

17.भाग्य रेखा पर तिल:हथेली के किसी भी हिस्से से शुरू होकर शनि पर्वत पर पहुँचने वाली रेखा भाग्य रेखा कहलाती है.भाग्य रेखा पर तिल होने से जीवन में बहुत बाधाएं आती हैं व जीवन दुर्भाग्यपूर्ण बनकर रह जाता है .चित्र में आप भाग्य रेखा पर तिल की स्तिथि का अंदाजा लगा सकते हैं:

भाग्य रेखा पर तिल
भाग्य रेखा पर तिल

यह भी पढ़ें:जानें सूर्य रेखा के प्रकार व फलादेश

18.सूर्य रेखा पर तिल:हथेली के किसी भी हिस्से से शुरू होकर सूर्य पर्वत पर पहुँचने वाली रेखा सूर्य रेखा या यश रेखा कहलाती है.सूर्य रेखा पर तिल होने से जीवन में प्रतिष्ठा को बहुत गहरा धक्का लगता है.चित्र में आप सूर्य रेखा पर तिल की स्थिति का अंदाजा लगा सकते हैं:

सूर्य रेखा पर तिल
सूर्य रेखा पर तिल

आप यह आर्टिकल निम्न वीडिओ पर देख व सुन सकते हैं:

आपके हाथ में कौसा तिल है बताएं,कोई और सवाल हो तो आप पूछ सकते हैं.शेयर व लाइक करना न भूलें.


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here